Website क्या है?

इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे – Website क्या है?, Website कितने प्रकार की होती है?, Website के लिये किन चीजों की जरुरत होती है? , Website का Structure कैसा हो? और Server क्या है?

Website क्या है?

Website को हम Webpage भी कहते हैं. Website एक File होती है जो कि HTML में बनाई जाती है और Web Browser (google chrome, Mozilla Firefox, Internet Explorer) के माध्यम से Internet पर देखी जाती है. एक Website में Text, Image, Audio, Video आदि किसी भी प्रकार का Data हो सकता है.

जब हम किसी भी Website को Open करते हैं तो उसका पहला Page जो हमें दिखाई देता है उसे Home Page कहते हैं.

Website कितने प्रकार की होती है? (Types of Website)

सबसे पहले हम पढ़ते हैं कि Website कितने प्रकार की होती हैं? 

Website 2 प्रकार की होती है – 

  1. Static Website – ऐसी वेबसाइट जो साधारण होती है जिसमे कोई भी Database नहीं होता. इसे हम ज्यादातर HTML का Use करके बनाते हैं. इसे Client Side Language का Use करके बनाया जाता है. यानि इस प्रकार की वेबसाइट को केवल वही Update कर सकता है जिसके पास Website के Server के Login Id Password हों. इस प्रकार की Websites केवल Information देने के लिये बनाई जाती हैं.
  2. Dynamic Website – इस Website में Database का Use होता है. इस प्रकार की Websites में Client Side Language जैसे HTML के साथ – साथ Server Side Language का भी Use किया जाता है जैसे Dot Net, PHP आदि. ऐसी Websites को Client की Side से भी Update किया जा सकता है. जैसे हम Example लेते हैं – Youtube, Facebook का. इन पर कोई भी अपने Id Password बना सकता है और Update कर सकता है. इस प्रकार की Websites में Login Process होता है.

Server क्या है?

यहाँ पर 2 शब्दों का Use किया गया है – Client Side और Server Side.

सबसे पहले हम समझते हैं – Server क्या है?

हम Exam Form या Competition Form भरते हैं तो कई बार Form Submit नहीं हो पाता तो हम कहते हैं कि Server Down है. ऐसे ही Bank में Balance Check करने जाते हैं तो कई बार नहीं हो पाता क्योंकि Server Down है. 

Server वह Computer होता है जो Users को वह information देता है जो वह चाहता है. जैसे Youtube पर हम कोई विडियो Search करते हैं तो youtube हमें उस Server से Video लाकर देता है जिस Server पर Video Upload है.

उसी तरह Google पर हम कोई Data Search करते हैं तो Google उस Server से Data लाकर देता है जिस Server पर हमारा Search किया गया Data Upload है. जैसे हम कोई Topic Search करते हैं तो Google अलग – अलग Server से उस Topic के बारे में अलग – अलग Data लाकर देता है.

अर्थात Server वह Computer होता है जिस पर Data Load होता है.

Server के अलावा बाकी सभी Computer जो Server से information लेते हैं, Client कहलाते हैं.

Server Side में वही व्यक्ति Upadation कर सकता है जिसके पास Server के Id Password हों.

Client Side में कोई भी User Website में Work कर सकता है. जैसे facebook.com पर आप अपनी id बना सकते हो, profile Update कर सकते हो, कोई भी Text, Image या Video Upload कर सकते हो.

Website बनाने के लिये Use आने वाली Language –

Website बनाने के लिये Server Side Language, Client Side Lauguage और Database का Use किया जाता है.

Server Side Language-

  • PHP
  • PHP Frameworks
  • Python
  • Java
  • C
  • C++
  • C#

Client Side Languages –

  • HTML
  • CSS
  • Java Script

Database –

  • My SQL
  • MS SQL Server
  • Oracle

Website Process कैसे काम करता है?

  • हम Browser में www.supportothers.org Search करते हैं.
  • Browser उस Website का IP Address Search करता है.
  • उसके बाद उस IP Address के द्वारा Web Server पर Request जाती है.
  • Web Server उस Website को Search करता है कि Website उस Server पर Hosted है या नहीं.
  • यदि है तो उस Website (URL) को कौन सा फोल्डर या Directory Assign की गई है. क्योंकि एक IP Address पर बहुत सी Website Hosted होती हैं और सभी Websites को अलग – अलग फोल्डर / Directory Assign की जाती हैं.
  • उसके बाद उस requested Website का Home Page Display होता है.

Website के लिये किन चीजों की जरुरत होती है?

Website बनाने के लिये हमें निम्न Process Follow करना होता है – 

  • Domain – वेबसाइट बनाने के लिये सबसे पहले हमें Domain Purchase करना होता है.
  • Hosting- Website के लिये हमें Hosting Purchase करनी होती हैं.
  • Name Server – उसके बाद हमें Name Server Update करने होते हैं.

पढ़ें –

Website का Structure कैसा हो?

वेबसाइट बनाने से पहले हमें यह तय करना है कि हम कैसी Website बनाना चाहते हैं. हमें अपनी वेबसाइट का Structure तय करना है. 

आप दो तरह की वेबसाइट बना सकते हो –

  • Service Based Website – इसका मतलब आपको इस वेबसाइट के द्वारा लोगों को जानकारी देनी है.
  • E Commerce Website – इसमें आप कुछ Sale कर सकते हो.

आपको वेबसाइट बनाने से पहले अपनी नोटबुक में कुछ Points लिखने हैं –

  1. वेबसाइट का Structure बनाना – जैसे जब आप मकान बनवाना चाहते हो तो सीधे ही मकान बनवा लेते हो या नक्शा बनवाते हो. I Think नक्शा. यानि कहाँ पर आपका Bedroom होगा, Drawing Room , Kitchen, Bathroom, कहाँ होगे. बस उसी तरह आपको वेबसाइट का Structure तैयार करना है. इसके लिये आप दूसरी वेबसाइट की मदद ले सकते हो कि वेबसाइट का Structure कैसा हो –
    1. aroraeducation.co.in
    2. sheetalvalveseat.com
    3. supportothers.org
  2. आपको अपनी वेबसाइट का Content लिखना है. यानि आपको अपनी Website पर क्या – क्या लिखना है.
  3. उसके बाद आपको यह लिखना है कि आपको अपनी वेबसाइट में कौन – कौन से Pages बनाना चाहते हो. जैसे Home, About, Contact Page, Product Page आदि.
  4. आपको अपनी Website में About, Contact Page, Privacy Policy Page , Disclaimer Page जरुर बनाने हैं.
  5. आप अपना लोगो तैयार रखे.
  6. Images तैयार रखे. आपको Images Google से Copy नहीं करनी है. या तो खुद की Images हों या Internet से Purchase  करें. आप Caneva से Images बना सकते हैं या Shutterstock से Images Purchase कर सकते हो.

आशा करता हूँ आपको मेरी यह पोस्ट पसंद आई होगी. मेरी इस Post को Share जरुर करें.

यदि इस Post से सम्बंधित आपके कोई सवाल या सुझाव हों तो आप Comment के माध्यम से हमें बता सकते हो.

Leave a Comment